Saturday, May 25th, 2024

माधवी राजे सिंधिया का महल में रखा जाएगा पार्थिव शरीर, अम्मा महाराज की छतरी के पास कल होगा अंतिम संस्‍कार

ग्वालियर
केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया की मां माधवी राजे सिंधिया का बुधवार सुबह दिल्ली में निधन हो गया। 75 वर्षीय माधवी राजे लंबे समय से बीमार थीं। बीते दो माह से वह दिल्ली के एम्स में ही भर्ती थीं और यहीं उन्होंने अंतिम सांस ली। अंतिम संस्कार गुरुवार को ग्वालियर में किया जाएगा। बुधवार को उनकी पार्थिव देह ज्योतिरादित्य सिंधिया के दिल्ली स्थित निवास पर रखी गई, जहां पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित कई लोगों ने श्रद्धांजलि अर्पित की। शिवराज सिंह ने दुख जताते हुए कहा कि वह सक्रिय राजनीति में नहीं थीं लेकिन ग्वालियर की जनता की चिंता उन्होंने हमेशा की। मुख्यमंत्री डा. मोहन यादव, पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ और दिग्विजय सिंह सहित कई विशिष्ट लोगों ने शोक जताया है।
 
लंबे समय से बीमार थीं
पांच मई को उनका स्वास्थ्य अत्यधिक बिगड़ने की सूचना मिलने पर ज्योतिरादित्य सिंधिया अपने संसदीय क्षेत्र गुना में प्रचार के दौरान ही दिल्ली रवाना हो गए थे। गुरुवार सुबह 10 बजे पार्थिव देह नई दिल्ली एयरपोर्ट से ग्वालियर के लिए रवाना की जाएगी। दोपहर 12.30 से 2.30 बजे तक अंतिम दर्शनों के लिए रानी महल में रखी जाएगी। कटोराताल स्थित थीम रोड पर स्थित अम्मा महाराज की छतरी में राजमाता विजयाराजे सिंधिया व स्व. माधव राव सिंधिया की समाधि के पास ही शाम पांच बजे उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।

राजमाता व माधव राव सिंधिया के समाधि के पास होगा अंतिम संस्कार
थीम रोड पर स्थित अम्मा महाराज की छतरी में राजमाता विजयाराजे सिंधिया व पूर्व केंद्रीय मंत्री माधव राव सिंधिया की समाधि हैं। इसी स्थान पर मां-बेटे का अंतिम संस्कार हुआ था। इनके पास ही माधवी राजे सिंधिया के पार्थिव देह का अंतिम संस्कार गुरुवार को किया जाएगा।

नेताओं ने दी श्रद्धांजलि
माधवी राजे सिंधिया के निधन पर मुख्‍यमंत्री डॉ मोहन यादव ने भी दुख जताया है।

Source : Agency

आपकी राय

5 + 9 =

पाठको की राय