किसान महापंचायत : योगी सरकार पर गरजे हार्दिक पटेल

0
460

पूंजीपतियों को बढ़ावा मिला है। किसानों, नौजवानों व बेरोजगारों को कोई फायदा नहीं हुआ है। विजय माल्या, नीरव मोदी आदि उद्योगपति देश का करोड़ों रुपया लेकर विदेश भाग गए हैं। 50 हजार रुपए के कर्जदार किसान को बीजेपी सरकार में परेशान किया जा रहा है। पटेल ने योगी को ढ़ोंगी करार दिया।

उन्होंने कहा कि सत्ता के लिए योगी सरकार समाज में हिंदू-मुस्लिम का भेदभाव पैदा कर रही है। बीजेपी के नेता राम मंदिर निर्माण के लिए राग खूब अलापते हैं। मौका आने पर नेता अयोध्या तक जाने की जहमत नहीं उठाते। 25 नवम्बर को अयोध्या में आयोजित धर्मसभा इसका जीता जागता उदाहरण है। सीएम योगी धर्मसभा में हिस्सा लेने अयोध्या नहीं गए थे।
उन्होंने कहा कि भेदभाव की राजनीति करने के चक्कर में प्रदेश की सरकार मूल मुद्दों से भटक गई है। प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो गई है। ऊना, संजली यादव, बुलंद शहर आदि घटनाएं कानून-व्यवस्था के गाल पर तमाचा हैं। उन्होंने कहा कि देश को प्रगति की राह पर ले जाने के लिए जेपी, लोहिया, पटेल और सरदार भगत सिंह की विचारधारा को अपनाना होगा। इस मौके पर किसान क्रांति सेना के प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश कटियार, पूर्व विधायक अनिल वर्मा, रमेश निषाद, संतोष भार्गव और सचेंद्र दीक्षित आदि मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here