‘बॉस ने पत्नी को नहीं दी मैटरनिटी लीव, खो दिया बेटा’

0
635

 

  • 1 / 7

    ये हैं मोहब्बतें सीरियल में मणि‍ का किरदार अदा करने वाले एक्टर सुमित सचदेव ने एक बेहद दुखद खबर सोशल मीडिया पर शेयर की है. सुमित और उनकी पत्नी अमृता गुजराल ने अपने बॉस के अमानवीय व्यवहार के चलते अपना पांच महीने का अजन्मा बेटा खो दिया है.

  • 'बॉस ने पत्नी को नहीं दी मैटरनिटी लीव, खो दिया बेटा'
    2 / 7

    सुमित ने इस दुखद घटना को शेयर करते हुए बताया है कि उनकी पत्नी पांच महीनें की प्रेग्नेंट थीं. वह अपने बच्चे के स्वागत के लिए बेहद उत्साहित थे. पूरा परिवार नन्हें मेहमान के आने के इंतजार में था.

  • 'बॉस ने पत्नी को नहीं दी मैटरनिटी लीव, खो दिया बेटा'
    3 / 7

    लेकिन हाल ही में उनकी पत्नी मिसकैरेज का शि‍कार हो गईं और इसकी वजह और भी दुखभरी थी. अपने बेटे को खोने पर सुमित ने एक पेटीशन साइन किया है. इस पेटीशन का लिंक उनके इंस्टा अकांउट के बायो में शेयर किया गया है.

  • 'बॉस ने पत्नी को नहीं दी मैटरनिटी लीव, खो दिया बेटा'
    4 / 7

    इस लिंक को खोलते ही उन्होने अपने पांच महीने के बेटे के भ्रूण की तस्वीर भी शेयर की है. इस तस्वीर पर एहान लिखा गया है. सुमित और अमृता अपने बेटे का नाम एहान रखने वाले थे. इस पेटीशन के डिटेल में सुमित ने पत्नी के मि‍सकैरिज होने का जिम्मेदार उनके बॉस प्रहलाद अडवाणी को ठहराया है.

  • 'बॉस ने पत्नी को नहीं दी मैटरनिटी लीव, खो दिया बेटा'
    5 / 7

    सुमित ने पेटीशन में लिखा है कि‍ कैसे उनकी पत्नी की पेड मैटरनिटी लीव पूरी होने के बाद उसके बॉस वर्क फ्रॉम होम देने से इंकार कर दिया. जबकि पहले इसकी इजाजत वो दे चुके थे. अमृता को बेड रेस्ट बताई गई थी लेकिन बावजूद इसके उन्हें काम पर लौटना पड़ा. काम का प्रेशर अमृता पर बढ़ता गया और एक दिन अचानक उसकी तबीयत खराब हो गई.

  • 'बॉस ने पत्नी को नहीं दी मैटरनिटी लीव, खो दिया बेटा'
    6 / 7

    सुमित ने बताया, अमृता को जल्द हॉस्पिटल दाखि‍ल करवाया गया लेकिन तभी पता चला कि उनका मिसकैरिज हो गया है. मि‍सकैरिज के 30 मिनट पहले ही उन्हें कंपनी से अमृता के टर्मिनेशन का लेटर मिला.

  • 'बॉस ने पत्नी को नहीं दी मैटरनिटी लीव, खो दिया बेटा'
    7 / 7

    सुमित ने पेटीशन में दुख बयां करते हुए लिखा, किस तरह से मैट‍रनिटी लीव को लेकर कंपनी मालिक एंप्लॉई का मानसिक शोषण करते हैं और एक मासूम बच्चे को अपनी जान खोनी पड़ती है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here